बुधवार, सितंबर 21, 2011

एक पत्र शहीद इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा के नाम


प्यारे शहीद मोहन चंद शर्मा
सादर कुर्बानस्ते !
सर्वप्रथम आपकी देश के प्रति असीम त्याग जी भावना को नमन करता हूँ जिसको धारण कर आपने आतंकियों से लड़ते हुए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए. देश भक्तों के लिए परसों आपकी शहादत का दिन था और देशद्रोहियों के लिए बटला हाउस एनकाउन्टर की बरसी. बटला हाउस क्षेत्र में देशद्रोही कई दिनों से बटला हाउस एनकाउन्टर के विरोध में रैलियां निकाल रहे थे और आतंकियों की जन्मभूमि आजमगढ़ व उसके आस-पास के क्षेत्र से मार्च करके जंतर-मंतर पर इकट्ठे हो रहे थे. वहीं कुछ देशप्रेमी जुलैना चौक पर... आगे पढ़ें...

1 टिप्पणी:

  1. सुमित भाई!
    जिनका दीन-ईमान सिर्फ कुर्सी हो,जहां फॆसले कुर्सी को देखकर किये जाते हों,वे शहादत का मूल्य क्या समझेगें?शहीद इंस्‍पेक्‍टर मोहन चंद शर्मा को मेरा भी नमन!

    उत्तर देंहटाएं